• power-banner5
  • power-banner4
  • 22,556 मेगावाट कभी उच्चतम उत्पादन क्षमता वृद्धि
  • कभी सब-स्टेशन क्षमता में वृद्धि के उच्चतम 65,554 एमवीए
  • 22,556 मेगावाट कभी उच्चतम GenerationCapacity वृद्धि

विद्युत मंत्रालय के बारे में

विद्युत मंत्रालय ने दिनांक 2 जुलाई, 1992 से स्वतंत्र रूप से कार्य करना शुरू किया। इससे पूर्व इसे ऊर्जा स्रोत मंत्रालय के नाम से जाना जाता था। वि़द्युत भारत के संविधान की सातवीं अनुसूची की सूची-III में प्रविष्टि 38 पर दिया गया समवर्ती सूची का विषय है। विद्युत मंत्रालय प्रमुख रूप से देश में वैद्युत ऊर्जा के विकास के लिए उत्तरदायी है।

और देखें

नरेंद्र मोदी
भारत के प्रधानमंत्री

पीयूष गोयल

राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)
विद्युत, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा, खान